Thu. Aug 18th, 2022

आजमगढ़ एस.पी त्रिवेणी सिंह के लिए इस रेप और तिहरे हत्याकांड का सच सामने लाना एक चुनौती थी


हवस की भूख लिए विकृत मानसिकता वाले शख्स नजीरुद्दीन ने जो किया उसकी कल्पना से भी मन काँप उठता है ।आजमगढ़ एस. पी त्रिवेणी सिंह ने अपने जीवन मे ऐसा वीभत्स केस नहीं देखा था । इसे हल कर आरोपी का पता लगाना उनके लिए एक कठिन चुनौती थी :-


आजमगढ़, उत्तर प्रदेश :-  मुबारकपुर थाना क्षेत्र में पुलिस को एक वारदात की सूचना मिली । पुलिस जब मौके पर पहुंची तो देखा एक घर के अंदर एक युवक और युवती मृत अवस्था मे पड़े थे और पास ही एक 10 वर्ष की बच्ची और 4 वर्ष का लड़का घायल तड़प रहे थे । युवती की लाश नग्न अवस्था मे थी । घर का सामान बिखरा हुआ था । पुलिस ने सरसरी निगाह दौड़ाई और उपलब्ध साक्ष्यों के विश्लेषण से इस निष्कर्ष पर पहुंची की मामला लूट का नहीं बल्कि दुष्कर्म और हत्या का है । घायल अचेतावस्था में पड़ी दस वर्षीय बच्ची से पूछताछ की कोशिश की गई तो उसने बदहवासी की हालत में जो बताने की कोशिश की उससे पुलिस ने घटनास्थल के समीप के युवक को हिरासत में ले लिया ,लेकिन जांच के बाद वो निर्दोष निकला ,तब पुलिस ने उसे छोड़ दिया ।फॉरेंसिक टीम और डॉग स्‍क्वैड की भी मदद ली गई लेकिन नतीजा सिफर रहा । पुलिस ने अपनी जाँच अन्य पहलुओं पर केंद्रित की ।

तभी पुलिस को पता लगा कि उसी गाँव का एक युवक नजीरुद्दीन घटना के बाद से घर से नहीं निकला है और वह मृतकों के परिवार से भी आता है । उसे रात में मृतकों की कब्र पर जाते भी देखा गया है ।घटना वाले दिन पुलिस के मौके पर पहुंचने के समय वह भी वहाँ मौजूद था लेकिन , पुलिस ने जब खोजी कुत्तों को घटनास्थल पर लाया तो वह भाग गया । पुलिस को शक हुआ और उसने नजीरुद्दीन के नंबर को सर्विलांस पर लगा दिया । इधर 4 साल का बच्चे की मृत्यु हो गई ।घायल बच्ची की हालत में कुछ सुधार हुआ तो उसने भी नजीरुद्दीन का नाम ही लिया ।

 

नजीरुद्दीन को हिरासत में ले लिया गया ,और उसने दुष्कर्म और हत्या की जो कहानी बयां की तो उसकी हैवानियत देख कर कलेजा कांप गया । मृत युवती नजीरुद्दीन की फुफेरी बहन थी  , उसे हवस का शिकार बनाने के लिए उसने यह खौफनाक हत्या के कुकर्म को अंजाम दिया । नजीरुद्दीन उस दिन अपनी बहन के घर गया और घर मे घुसते ही अपने जीजा के सर पर ईंट सेे प्रहार किया तो तुरत ही उसकी मौत हो गई ,जब बहन सामने आई तो उसे ईंट से मारा तो वह खून से लथपथ गिर पड़ी । नजीरुद्दीन ने तड़पते हालत में अपनी बहन के साथ दुष्कर्म किया । जब भांजी ने आकर यह सब देख तो शोर मचाने लगी तब हैवान नजीरुद्दीन ने अपनी भांजी और पास खड़े भांजे पर भी ईंट से प्रहार कर दिया । भांजी के घायल होने के बाद उसके साथ भी दुष्कर्म किया । तीन घंटे तक वह उस घर  मेंं रहा । घर से बाहर निकल कर उसने महिला के कपड़े दूर फेंक दिए। अपनी इस हैवानियत की वीडियो भी बनाया और अपनी सगी भाभी को दिखा दिया । भाभी ने जब भर्त्सना की और भाई ने फटकार लगाई तो मोबाइल को तमसा नदी में फेंक दिया । इस वीभत्स घटना को अंजाम देने वाले नजीरुद्दीन ने पुलिस को बताया कि घटना का उसे अफसोस होने लगा क्योंकि मृतका उसकी फुफेरी बहन थी इसीलिए वह हर रात उसकी कब्र पर जाता था ।



      न्यूज मंडी ,सेंट्रल डेस्क :-



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *