Mon. Jun 27th, 2022

उत्तराखंड में भीषण बारिश से हाईवे समेत 40 सड़कें बंद, भूस्खलन से बढ़ीं मुश्किलें

उत्तराखंड में दो दिन से हो रही बारिश के कारण चारधाम समेत राज्य की छोटी-बड़ी 40 सड़कों पर यातायात ठप हो गया। बारिश ने पांच लोगों की जान ले ली। जबकि, चारधाम समेत राज्य की छोटी-बड़ी 40 सड़कों पर यातायात ठप हो गया।बारिश के कारण यमुनोत्री, बदरीनाथ हाइवे अभी बंद हैं। जबकि, किदारनाथ हाइवे पर भी याातायात बाधित होता रहा।

दरीनाथ के पास माणा में सेना के शिविर के पास एक हिमखंड टूट गया। हालांकि इससे किसी को नुकसान नहीं हुआ। चकराता तहसील के ग्राम पंचायत जोगियों की बिजनाड़ छानी में बादल फटने से तीन छानियां ध्वस्त हो गईं। घटना में दो बच्चियों सहित तीन लोगों की मौत हो गयी और चार लोग घायल हो गए। उधर, कुमाऊं के केलाखेड़ा में कच्चे मकान की दीवार गिर जाने से दो मजदूरों की मौत हो गई। चमोली जिले के माणा गांव के पास विशालकाय हिमखंड टूट कर सड़क पर आ गए। जिससे बार्डर को जोड़ने वाली सड़क बंद हो गई। लामबगड़ में सौ मीटर हाइवे टूट जाने से मार्ग बंद हो गया। बेनाकुली और हनुमान चट्टी के बीच भी हाइवे बंद है। यमुनोत्री हाइवे भूस्खलन के कारण खनेड़ा के पास बंद है। जबकि ऋषिकेश से देवप्रयाग के बीच बदरीनाथ हाइवे भी दिन भर बंद होता रहा। कुमाऊं के सितारगंज में टीनशेड गिरने से पांच लोग घायल हो गए। पिथौरागढ़ के मिलम में तीन इंच से अधिक हिमपात हुआ। आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने अफसरों से आपदा से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। 

बारिश से बदरीनाथ हाईवे रहा बंद 
ऋषिकेश। बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। ऋषिकेश-बदरीनाथ मार्ग कई स्थानों पर मलबा गिरने से दिनभर बाधित रहा। गुरुवार को लगातार बारिश से शहर के कई इलाके जलमग्न हो गये। जलजमाव के चलते लोगों को घरों से बाहर निकलने में मुश्किल हुई। टीके लगाने पहुंचे लोगों को भी परेशानी उठानी पड़ी। बुधवार तड़के शुरू हुई बारिश गुरुवार शाम तक जारी रही। इससे बदरीनाथ मार्ग पर सुबह 6 बजे तोताघाटी के पास मलबा सड़क पर आ गिरा। करीब चार घंटे बाद मलबा हटाकर यातायात शुरू करवाया गया, लेकिन 11 बजे के आसपास व्यासी के पास चट्टान टूटकर हाईवे पर गिर गई। 

दून-मसूरी मार्ग मलबा आने से बाधित 
मसूरी। मसूरी में गुरुवार को जमकर बारिश हुई। इससे जनजीवन प्रभावित हो गया। बुधवार रात से गुरुवार दोपहर तक हुई बारिश से लोगों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। बारिश से मसूरी-देहरादून मार्ग पर ग्लोगी के पास पहाड़ी दरकने से मलबा आ गया। इससे यातायात प्रभावित रहा। वहीं कैंपटी-यमुना पुल रोड पर कांडी खाल में भी बारिश से रोड टूट गई। बारिश लगातार जारी है। इससे ठंड हो रही है। बारिश के कारण मसूरी-देहरादून मार्ग पर गलोगी के समीप पहाड़ी दरकने से बड़े बोल्डर और मलबा रोड पर आ रहा है। मलबे को हटाकर सड़क पर आवाजाही सुचारू की जा रही है। लोक निर्माण विभाग ने मौके पर मलबा हटाने के लिए जेसीबी लगाई है। दूसरी ओर मसूरी यमुनापुल मार्ग पर काड़ीखाल के समीप रोड टूट गई। इस कारण बड़े वाहनों के लिए रोड बंद हो गई। छोटे वाहन आ-जा रहे हैं। 




साभार : हिदुस्तान


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *