Sat. May 21st, 2022

केदारनाथ के कपाट खुले , अभी सिर्फ ऑनलाइन दर्शन होंगे , यात्रा पर रोक लगी है

उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित विश्वप्रसिद्ध केदारनाथ के कपाट छह माह के शीतकालीन अवकाश के बाद आज सुबह 5 बजे खोल दिए गए है…..

उत्तराखंड                                             

उत्तराखंड में केदारनाथ के कपाट छह माह के शीतकालीन अवकाश के बाद आज सुबह 5 बजे खोल दिए गए है। इस अवसर पर मंदिर को 11 कुंतल फूलों से सजाया गया था।   कोविड मामलों को देखते हुए पूरी सादगी से कुछ लोगों की उपस्थिति के साथ कपाट खोले गए।देश के अन्य हिस्सों की तरह उत्तराखंड में भी कोविड मामलों में जबरदस्त वृद्धि हुई है। पिछले कई दिनों से उत्तराखंड में कोरोना वायरस के रोजाना 5,000 से 9,000 मामले आ रहे हैं ।बद्रीनाथ धाम के कपाट 18 मई को तड़के 4 बजकर 15 बजे खुलेंगे।  कोरोना महामारी के कारण श्रद्धालुओं को इन धामों में आने की अनुमति नहीं है। जिसके कारण सिर्फ ऑनलाइन दर्शन ही कर सकते है। इसके पूर्व यमुनोत्री धाम के कपाट 14 मई और गंगोत्री धाम के कपाट 15 मई को खुल चुके हैं। 

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बाबा केदार के धाम के पट खुलने पर श्रद्धालुओं को शुभकामनांए देते हुए उनसे अपील की कि वे अपने घरों में रहकर ही पूजा अर्चना करें।

 

वहीं, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड एवं मंदिर समितियों द्वारा चारों धामों में पहली पूजाएं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से जनकल्याण के लिए की जा रही हैं। 

  कोविड मामलों में बढोत्तरी के कारण फिलहाल चार धाम यात्रा को स्थगित कर दिया गया है। इस सम्बन्ध में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने 29 अप्रैल को कहा था कि महामारी की वर्तमान स्थिति के बीच यात्रा का संचालन संभव नहीं है। उन्होंने कहा था कि धामों के कपाट अपने नियत समय पर ही खुलेंगे लेकिन वहां केवल तीर्थ पुरोहित ही नियमित पूजा करेंगे।




उत्तराखंड डेस्क


नवीन भंडारी ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *