Sat. May 21st, 2022

देश मे कोरोना संक्रमण की भयावह रफ्तार

नई दिल्ली             

कोरोना वायरस की नई लहर से देश के कई जिले बुरी तरह प्रभावित हैं। राजधानी दिल्ली के हालात काफी गंभीर हो चुके हैं। पिछले 24 घंटे में राजधानी में कोरोना के 17,282 नए केस मिले, जो भयावह स्थिति की कहानी कह रहे हैं। मौजूदा समय में राजधानी में 7598 कंटेनमेंट जोन्स हैं। इनमें से 6689 एक्टिव हैं। दूसरी तरफ दक्षिण दिल्ली में सबसे ज्यादा 1732 कंटेनमेंट जोन्स बनाए गए हैं। इसके बावजूद दिल्ली में कोरोना की रफ्तार पर अब तक लगाम नहीं लगाई जा सकी है। दिल्ली में टेस्ट्स की संख्या भी एक लाख प्रतिदिन के आंकड़े तक पहुंचा दी गई है। ऐसे में दिल्ली का टेस्ट पॉजिटिविटी रेट 15.92 फीसदी पर पहुंच गया है। स्थिति को देखते हुए राजधानी में 7598 कंटेनमेंट जोन्स बनाए गए हैं। इनमें से 6689 एक्टिव हैं। दक्षिण दिल्ली में सबसे ज्यादा 1732 कंटेनमेंट जोन्स बनाए गए हैं। इसके बावजूद दिल्ली में कोरोना की रफ्तार पर अब तक लगाम नहीं लगाई जा सकी है।दिल्ली और मुंबई दो ऐसे शहर हैं, जिन्होंने कोरोना की इस नई लहर में सभी रिकॉर्ड तोड़े हैं. देश में सामने आ रहे हर 8 में से एक नया केस, इन्हीं दो शहरों से मिल रहा है. इसमें दिल्ली ने तो मुंबई को भी पीछे छोड़ दिया है, हाल ये है कि दिल्ली में एक महीने में संक्रमण के मामले 32 गुना तक बढ़ गए हैं.अगर दिल्ली का हाल देखें, तो हर 100 टेस्ट में 13 लोग कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं। दिल्ली और बाकी जगहों में तेजी से संक्रमण फैलने की यह एक बड़ी वजह मानी जा रही है। डॉक्टरों का कहना है कि पिछली बार संक्रमित के साथ लगातार 10 मिनट तक संपर्क में रहने पर खतरा था, लेकिन इस बार सिर्फ एक मिनट के सम्पर्क से लोग संक्रमित हो रहे हैं।




 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *