Mon. Jun 27th, 2022

पुणे की ‘गीता काले’ को अब हर कोई काम पर रखना चाहता है ..

पुणे की रहने वाली गीता काले पूरे भारत मे चर्चित चुकी है इंटरनेट सनसनी बन गई है , अब हर कोई उसे काम पर रखने को तैयार है , वो मेड का काम करती है….


 पुणे के बाधवन इलाके में रहने वाली गीता काले की जब नौकरी छूट गई , तो वह परेशान हो उठी , काम देने के लिए लोग तरह तरह के सवाल पूछते  । उसे काम नहीं मिला तब , गीता की एक काम देने वाली महिला से बात हुई और उसकी कोशिशों ने उसे चर्चित कर दिया । पुणे के लोग चौंक गए जब मेड का काम करने वाली महिला का विज़िटिंग कार्ड वायरल हुआ । अब गीता विज़िटिंग कार्ड की मदद से काम ढूंढ रही थी । वो नई इंटरनेट सनसनी बन चुकी थी ।

पुणे की रहने वाली धनश्री शिंदे के घर मे गीता काले कभी काम करती थी । काम छूटने के बाद जब काम मिलने में हो रही परेशानी के बारे में बताया तो धनश्री शिंदे ने एक नई बात सोची और गीता के लिए एक विज़िटिंग कार्ड बना दिया । उसमें लिखा था – “घर काम मौसी इन बावधन। इस कार्ड में उनके हर काम का जिक्र था और उसका रेट भी लिखा हुआ था। यह विजिटिंग कार्ड आधार कार्ड से भी वेरिफाइड था।

धनश्री शिंदे ने सौ कार्ड बनाकर गीता कोड़िये और पड़ोस मेबंटने को कहा । इस कार्ड में गीता का हर काम और उनका रेट भी लिखा हुआ था।  शिंदे की यह छोटी सी कोशिश उम्मीद से कहीं अधिक काम कर गई और अब सभी गीता को काम देना चाहते ह । गीता के विजिटिंग कार्ड की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और इसके बाद से लगातार उनका फोन बज रहा है ।

धनश्री शिंदे ने गीता की मदद के लिए एक छोटा कदम, एक नई सोच के साथ बढ़ाया था लेकिन उन्हें ये नहीं पता था  कि, उनकी ये कोशिश सोशल मीडिया पर सनसनी बन जाएगी । गीता काले ने अपना फोन धनश्री शिंदे को दिया है, ताकि वे लगातार आ रहे फोन कॉल्स को मैनेज कर सकें।

 



न्यूज मंडी सेंट्रल ,डेस्क :-
Input:oneindia.com


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *